शुक्रिया 

ए खुदा तेरा शुक्रिया 

मेरी हर दुआ तूने क़बूल की

वह भी जो मैंने नादानी में

उसके हक़ में माँगी थी

जो उसके क़ाबिल न था

  

Advertisements